भिलाई : कोरोना संक्रमण से अपने परिवार के मुखिया को खोने वाले बच्चों से विद्यालय द्वारा लिए जा रहे स्कूल फीस एवं परीक्षा फीस को माफ करवाने की मांग को लेकर सुमन शील द्वारा कलेक्टर को सौपा गया ज्ञापन

  • 27-September-2021

भिलाई न्यूज। कोरोना संक्रमण महामारी बीमारी से अपने परिवार के मुखिया को खोने वाले बच्चों से विद्यालय द्वारा लिए जा रहे स्कूल फीस एवं परीक्षा फीस को माफ करवाने की मांग को लेकर कल्याण सेवा जनजागृति संगठन के प्रदेशाध्यक्ष सुमन शील के नेतृत्व में संगठन का एक प्रतिनिधि मंडल प्रभावित परिवार के सदस्यों की उपस्थिति में जिला कलेक्टर डॉ. सर्वेश्‍वर नरेन्‍द्र भुरे से मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा गया।


चर्चा के दौरान सामाजिक कार्यकर्ता सुमन शील ने जिला कलेक्टर डॉ. सर्वेश्‍वर नरेन्‍द्र भुरे से कहा कि कोरोना संक्रमण महामारी से जिन परिवार के मुखिया का साया हट गया है उन्हें पढ़ाई में कोई दिक्कत ना हो, इस बात का ध्यान रखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उन बच्चों के लिए छात्रवृत्ति और शिक्षा में पूरी तरह सहायता करने की योजना तैयार कर छत्तीसगढ़ महतारी दुलार योजना बनाई गई।


लेकिन अभी तक विद्यालय में पढ़ रहे बच्चों को उसका लाभ नहीं पहुंचा है। जिसके कारण छत्तीसगढ़ महतारी दुलारी योजना का आवेदन जमा करने के बावजूद सेक्टर 11 शक्तिनगर निवासी स्वर्गीय अरुण पटेल की पुत्री भूमिका पटेल निर्मला रानी विद्यालय 12वीं कक्षा की छात्रा, पुराना मछली मार्केट शिवाजी चौक कैंप तो निवासी स्वर्गीय गोपी नायर के पुत्र सुरेंद्र नायक 10वीं का छात्र, पुत्री सातवीं की छात्रा ओम शिव शक्ति विद्यालय, नितेश नायर कक्षा बारहवीं भिलाई विद्यालय में शिक्षा ले रहे बच्चों से फीस की मांग की गई है जो अति चिंतनीय है।

वस्तु स्थिति से अवगत होने के उपरांत जिला कलेक्टर डॉ. सर्वेश्‍वर नरेन्‍द्र भुरे ने तत्काल उपस्थित प्रतिनिधि मंडलों के समक्ष जिला शिक्षा अधिकारी को फोन कर स्कूल द्वारा दिए जा रहे फीस को माफ करने के लिए आदेश करने को कहा गया।

प्रतिनिधिमंडल में मुख्य रूप से संगठन के उमा भादुरी बसंता नायर राजू गुप्ता जावेद खान , नीला बेन पटेल , सरोज नायार सहित अनेकों उपस्थित थे। 


Related Articles

Comments
  • No Comments...

Leave a Comment