दुर्ग : निगम के नोटिस के चलते सिद्धार्थ नगर में एक युवक की आत्महत्या के मामले को लेकर भाजपा ने घेरा कलेक्ट्रेट : कहा - निगम प्रशासन के अत्याचार के कारण गरीब कर्मचारी ने की आत्महत्या

  • 27-September-2021

दुर्ग न्यूज। निगम के नोटिस के चलते सिद्धार्थ नगर में एक युवक के आत्महत्या के मामले को लेकर भाजपा ने कलेक्ट्रेट घेरा , कहा सत्ता पक्ष के संरक्षण में गरीब दलित कर्मचारियों को परेशान किया जा रहा है।


नगर निगम द्वारा वार्ड 31 सिद्धार्थ नगर के 7 सफाई कर्मचारियों को तीन दिन के अंदर मकान तोड़े जाने दिए नोटिस के चलते दलित सफाई कर्मी युवक बिनेश गुजरिया के आत्महत्या मामले को लेकर भाजपा ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर जोरदार हल्ला बोलते हुए प्रदर्शन किया।


तत्पश्चात जिलाधीश डॉ सर्वेश्वर भूरे को ज्ञापन सौंपकर इस मामले में सूक्ष्मता से जांच कर पीड़ित परिवार को तत्काल अनुकम्पा नियुक्ति देने व 5 लाख रुपए मुआवजा देने तथा सभी पीड़ित लोगो को नोटिस दे राहत देने की मांग करते हुए इस पूरे मामले कि सूक्ष्मता से जांच कर दोषी निगम अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की मांग किया।



प्रदर्शन के दौरान प्रदेश भाजपा मंत्री उषा टावरी, पूर्व महापौर चंद्रिका चंद्राकर,नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा ,वरिष्ठ नेता शिव चंद्राकर, जिला भाजपा महामंत्री ललित चंद्राकर नटवर ताम्रकार उपाध्यक्ष कांतिलाल जैन मंत्री व पूर्व सभापति दिनेश देवांगन मनोज मिश्रा, मंडल भाजपा अध्यक्ष चंद्रशेखर चंद्राकर,दीपक चोपड़ा, लुकेश बघेल, जिला भाजयुमो अध्यक्ष नितेश साहू,महिला मोर्चा अध्यक्ष उपासना चंद्राकर आई टी सेल संयोजक राजा महोबिया, अनुसूचित जाति मोर्चा अध्यक्ष संतोष कोसरे कैलाश डग्गर, अल्का बाघमार सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता व भाजपा पार्षद उपस्थित थे।

इससे पूर्व सुबह पूर्व महापौर चंद्राकर, पूर्व सभापति दिनेश देवांगन व मंडल अध्यक्ष दीपक चोपड़ा के नेतृत्व में गंजपारा सदर मंडल के नेताओ व कार्यकर्ताओं ने पीड़ित परिवार के घर सिद्धार्थ नगर जाकर मुलाकात किया था तथा इस पूरे मामले की जानकारी लेकर दोपहर डेढ़ बजे सभी भाजपा संगठन के नेताओ कार्यकर्ताओं व पार्षदों ने संयुक्त रूप से भाजपा कार्यालय से एक रैली के रूप में कलेक्ट्रेट पहुंचकर जोरदार प्रदर्शन किया। 

इस अवसर पर पूर्व महापौर चंद्रिका चंद्राकर ने कहा कि सिद्धार्थ नगर में वर्षो से काबिज निगम के 7 सफाई कर्मचारी जिन्हें 1984 मे स्थाई पट्टा मिला हुआ था जिन्हें 2019 मे फिर नवीनीकरण 30 वर्षो का पट्टा प्रदान किया गया है उन्हे नगर निगम द्वारा सहकारी विपणन मर्यादित समिति की जगह होने का हवाला देकर 3 दिन के अंदर मकान खाली करने व घर तोड़ने की नोटिस थमा दिया।

जिससे व्यथित एक परिवार के मुखिया बिनेश गुजरिया उम्र 48 वर्ष ने आत्महत्या कर लिया और परिवार के एक अन्य व्यक्ति को अटैक आ गया जो अस्पताल में उपचार ले रहे है तथा नोटिस मिले बाकी लोग दशहत मे है।

इस प्रकार इस पूरे मामले में नगर निगम का संवेदनहीनता व अमानवीय कृत्य उजागर हुआ है उक्त स्थल पर पचास वर्ष से अधिक काबिज लोगो को अचानक 3 दिन में मकान तोड़ने का नोटिस देना प्रशासन व निगम में काबिज सत्ताधारी दल के पूर्वग्रह को दर्शाता है किन्तु भाजपा इस मामले में चुप नहीं बैठेगी बल्कि दलित परिवार के हक के लिए संघर्ष करेंगी।

नेता प्रतिपक्ष अजय वर्मा ने प्रशासन को चुनौती देते हुए कहा कि निगम में इस प्रकार भर्रा शाही चल रहा हैै कि निगम के अधिकारी निरंकुश होकर अब नियम कानून ताक में रखकर कार्य कर रहे है जिसका ताजा उदाहरण निगम के गरीब सफाई कर्मियो को नियम विरुद्ध गलत तरीके से तीन दिन में घर तोड़ने का नोटिस थमाकर आत्महत्या के लिए मजबूर कर दिया ये सब निगम के सत्ता पक्ष के संलिप्तता को दर्शाता है कि किस प्रकार गलत तरीके से नोटिस जारी किया है। जमीन हड़पने का बड़ा खेल चल रहा है किन्तु भाजपा इस मुद्दे पर चुप नहीं बैठेगी बल्कि पीड़ित परिवार के हक के लिए संघर्ष करेगी।

कलेक्ट्रेट में प्रदर्शन करने वालो मे भाजपा पार्षद देवनारायण चंद्राकर, काशीराम कोसरे, नरेश तेजवानी, मनीष साहू, ओमप्रकाश सेन, अजित वैद्य, पुष्पा गुलाब वर्मा, हेमा शर्मा, कुमारी साहू ,मंडल भाजपा महामंत्री, विजय ताम्रकार राहुल पंडित, संदीप जैन, बंटी चौहान, पोषण साहू, सुनील गुप्ता जिला भाजयुमो महामंत्री तेखन सिन्हा, गौरव शर्मा, बंटी रकसेल, लालेंडर वढ़ेल, राहुल भट्ट, दीपक सिन्हा, ईश्वर देवांगन, कुंदन साहू, जग्गी शर्मा गुलाब वर्मा, राकेश साहू, नीलमणि, पंकज डग्गड ,रजत कमड़े, अनुपम मिश्रा गायत्री वर्मा, कलिंद्री साहू ,श्यामा साव, ममता जैन ,अहिल्या यादव, प्यारी पवार स्नेहलता, भावना दिवाकर ,हेमलता निषाद लता सोनी, रजनी यादव, लीला खोबरागड़े, संगीता मार्कंडेय ,बसंती गायकवाड़, पार्वती पंडित, शीतला ठाकुर, लेम कला, वैद, रेणुका देवांगन ,सुधा राठौर ,संदीप भाटिया, हरिका साहू ,प्रशांत जोशी ,उमेश गोस्वामी, देव वर्मा, महेंद्र यादव, भूपेंद्र साहू, गणेश यादव, किशन दुबे, गगन तिवारी, निरंजन सिंह दुबे, हिमांशु सिंह, दिलीप यादव, राहुल सोनकर ,भूपेंद्र शिव नायक, चंद्रकांत साहू, राहुल कुमावत, प्रमोद नामदेव, गोलू सोनी देवांगन ,दौलत राजपूत, कलिंद्र यादव, कन्हैया देवांगन, जीतू सिंह राजपूत, प्रवीण सेन, निलेश सिन्हा ,आशीष पांडे, प्रकाश ताम्रकार, संदीप चंद्राकर सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित थे।


Related Articles

Comments
  • No Comments...

Leave a Comment