भिलाई : बीएसपी ने डेंगू रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु किए गंभीर प्रयास ,नगर सेवाएं विभाग के मुख्य महाप्रबंधकों ने किया सेक्टर का दौरा

  • 25-June-2021

भिलाई न्यूज़  / भिलाई इस्पात संयंत्र प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी कार्यपालक निदेशक (कार्मिक व प्रशासन) एस के दुबे के मार्गदर्षन में डेंगू रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु गंभीर प्रयास किए है। डेंगू रोकथाम हेतु किये जा रहे कार्यों का जायजा लेने हेतु 24 जून, 2021 को नगर सेवाएं विभाग के महाप्रबंधक द्वय पी के घोष तथा यू के झा ने डीएमओ डाॅ सी बी एस बंजारा के साथ सेक्टर- 04 का विशेष दौरा किया। 


इस टीम ने दौरे में डेंगू उपचार के बाद घर लौट आये मरीज से मुलाकात कर उनका कुषल-क्षेम जाना। इस दौरे में आस-पास के घरों में जाकर जांच की। इन घरों में किसी भी प्रकार मच्छर का लार्वा नहीं पाया गया। उल्लेखनीय है कि बीएसपी के पीएचडी विभाग द्वारा किये जा रहे निरन्तर प्रयासों के चलते विगत 7 दिनों से अर्थात 17 जून, 2021 के बाद भिलाई टाउनषिप में कोई भी संभावित डेंगू मरीज नहीं मिला है। 


मुख्य महाप्रबंधक पी के घोष द्वारा अपील की गई है कि बारिश को देखते हुए सभी घरों के कूलर से पानी को निकाला जाये, फ्रिज के नीचे ट्रे को प्रतिदिन साफ करें, नहाने के पानी की टंकी ढक कर रखे। प्रत्येक सप्ताह शुष्क दिवस के रूप में मनाते हुए पानी स्टोर करने वाले सभी समानों, टंकियों व कूलर, फ्रिज का ट्रे, गमले, पशु पक्षी के पानी पीने हेतु रखे टब को खाली करें। 


साथ ही जिस किसी व्यक्ति को बुखार आए, वो जवाहर लाल नेहरु चिकित्सालय सेक्टर- 09, या शासकीय हॉस्पिटल में अपनी सुविधानुसार तत्काल जाँच कराना सुनिश्चित करें। जिससे कहीं भी डेंगू के मरीज रिपोर्ट होने पर उस क्षेत्र में सघन जांच अभियान चलाकर लार्वा एवं वयस्क मच्छर का नष्टीकरण किया जा सके और भिलाई को डेंगू मुक्त किया जा सके। इस दौरे मे राधिका श्रीनिवासन (महाप्रबंधक), के के यादव (उपमहाप्रबंधक), वी के भोंडेकर (प्रबंधक), ऐ के बंजारा (प्रबंधक) आदि विशेष रूप से उपस्थित थे। 

विदित हो कि भिलाई इस्पात संयंत्र के नगर सेवाएं विभाग ने डेंगू रोकथाम हेतु कई महत्वपूर्ण प्रयासों को अमली जामा पहनाया है। डेंगू रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु पेस्ट कंट्रोल की गतिविधियां सतत जारी हैं। इसके अतिरिक्त 76 व्यक्तियों से पन्द्रह टीमों का निर्माण कर ग्रुप बनाकर प्रत्येक घरों में जाकर कूलर, पानी स्टोर करने की टंकी, गमला इत्यादि को टेमीफोस घोल डालकर लार्वा नष्ट करके खाली किया गया तथा पुनः एक बार सभी को टेमीफोस घोल वितरित किया गया। इसके साथ-साथ बीएसपी द्वारा पेमेंट बेसिस पर जिला मलेरिया विभाग से 36 व्यक्तियों का अतिरिक्त अमला लाकर लार्वा चेकिंग हेतु लगाया गया।

ये सभी लार्वा चेकिंग विशेषज्ञ है, जिनके द्वारा प्रत्येक घरों में जाकर जमा लार्वा की चेकिंग व नष्टीकरण किया जा रहा है। डेंगू रोकथाम एवं नियंत्रण हेतु भिलाई इस्पात संयंत्र के कुल 120 सदस्यीय टीम दिन रात लगे हुए है। इसी सतत निगरानी के वजह से भिलाई टाउनषिप में 17 जून, 2021 के पश्चात कोई भी डेंगू मरीज नहीं मिला।

इनके साथ ही लोगों को डेंगू के प्रति मौखिक रूप से व पम्पलेट के माध्यम से जागरूक किया जा रहा है। डीएमओ लार्वा चेकर टीम व पी.एच.डी. टीम द्वारा विभिन्न सेक्टरों 01, 02, 03, 04, 05, 06, 07 व 10 में 14,000 (चैदह हजार) घरों का कूलर, फ्रिज, गमला, नाली इत्यादि का जाँच किया गया, जिसमें की लार्वा नही के बराबर पाया गया। यह जांच अन्य सेक्टरों में भी प्रक्रियारत है। इन सभी घरों में पुनः टेमीफोस का वितरण किया जा रहा है। साथ ही साथ इन सभी सेक्टरों में प्रतिदिन थर्मल फोगिंग किया जा रहा है, कीटनाशक दवाओं का छिड़काव व ऑइलिंग (जला हुआ तेल) हॉउस स्प्रे इत्यादि कार्य लगातार किया जा रहा है।

इस प्रकार भिलाई इस्पात संयंत्र इस वर्ष डेंगू रोकथाम हेतु अपनी पूरी ताकत झोक दी है, साथ ही इसे रोकने के लिए सभी नगरवासियों से सहयोग करने की अपील की गई है।


Related Articles

Comments
  • No Comments...

Leave a Comment